जोरहाट के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल – Tourist Places in Jorhat?

Tour and Travels

जोरहाट असम राज्य के प्रमुख शहरों में से एक है यह शहर असम तथा नागालैंड के लिए प्रवेश द्वार भी बना देता है। इस शहर की स्थापना लगभग 6 शताब्दी में की गई थी यह एक ऐतिहासिक शहर है, और इस शहर में कई प्रकार के ऐतिहासिक अवशेष भी है जोकि अहोम शासन के बारे में बताते हैं, यह शहर अहोम वंश की राजधानी थी यह शहर चाय के बागान ओं के लिए काफी ज्यादा प्रसिद्ध भी है क्योंकि जोरहाट शहर के आसपास के इलाकों में लगभग 135 चाय के बागान भी हैं।

इसीलिए यह असम क्षेत्र का सबसे बड़ा चाय का उत्पादक भी है जो भी व्यक्ति जोरहाट शहर में घूमने के लिए आता है वह यहां के चाय के बागानों में जरूर घूमता है। आज हम आपको जोरहाट शहर के सभी पर्यटक स्थलों के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। जिन्हें जानने के बाद आप भी यहां पर घूमना काफी पसंद करेंगे, आज हम इसी शहर के पर्यटक स्थलों के बारे में जानेंगे, जैसे कि Places To Visit In Jorhat तथा Tourist Places In Jorhat और इसी के साथ साथ हम आपको Visiting Places In Jorhat के बारे में भी बताएंगे।

Tourist Places In Jorhat – जोरहाट शहर के पर्यटन स्थल?

1. जोरहाट जिमखाना ( Jorhat Gymkhana )

जोरहाट में एक जिमखाना क्लब भी है जो कि खेल खेलने का स्थान है, इसकी स्थापना 1876 ईस्वी में क्लिमोम द्वारा की गई थी यहां पर काफी तरह के अलग-अलग खेल कराए जाते हैं, जैसे कि गोल्फ, क्रिकेट, घोड़ों की दौड़ तथा पोलो, इसके अतिरिक्त यहां पर लॉन टेनिस कोर्ट तथा स्विमिंग पूल भी है जहां पर अलग-अलग तरह के मैच होते हैं।

और दोस्तों हम आपको बता दें, कि यह गोल्फ कोर्स एशिया का काफी पुराना तथा दुनिया का तीसरा सबसे पुराना गोल्फ कोर्स है और इस क्लब में 9 होल गोल्फ कोर्स है। जहां पर हर साल अंडर-19 इंडियन क्रिकेट भी खेला जाता है और इस स्थान को देखने के लिए भी लोग दुनिया के कोने कोने में से आते हैं। यदि आप भी Places To Visit In Jorhat पर घूमने की योजना बना रहे हैं, तो इस स्थान पर जाना मत भूलिएगा।

2. ढेकियाखोवा बोरनामघर ( Dhekiakhowa Bornamaghar )

ढेकियाखोवा बोरनामघर असम राज्य के जोरहाट जिले में स्थित है, और यह नाम घर लगभग 14 से 61 ईसवी में माधवदेवा के द्वारा स्थापित किया गया था। यह नामघर जोरहाट के बहुत ही पवित्र धार्मिक स्थलों में से एक है और यह स्थान लगभग जोरहाट से 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और नेशनल हाईवे से लगभग  3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह नाम घर लगभग 13 बीघा जमीन पर फैला हुआ है और यहां के दर्शन करने के लिए भी लोग दूर-दूर से आते हैं।

खास तौर पर सितंबर के महीने में तो यहां पर पर्यटकों की संख्या बहुत ही ज्यादा बढ़ जाती है इस नाम घर को लेकर सभी लोगों के मन में अलग-अलग तरह की मान्यताएं हैं, इसके साथ-साथ यह स्थान बहुत ज्यादा शांत भी है। अगर आप अपने परिवार वालों के साथ Places To Visit In Jorhat के बारे में सोच रहे हैं तो इस स्थान पर आप आकर अपने परिवार वालों के साथ काफी आनंद उठा सकते हैं।

3. Hoolongapar Gibbon Sanctuary ( हूलोंगापार गिब्बन अभयारण्य )

यह अभयारण्य जोरहाट शहर में ही कुछ ही दूरी पर स्थित है, और आपको जानकर हैरानी होगी कि यह अभयारण्य है लगभग 21 किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है, और यहां पर आपको लगभग सभी तरह के जानवर देखने को मिल जाएंगे और यहां पर आपको बहुत से ऐसे जानवर भी देखने को मिलेंगे जो कि भारत में काफी कम पाए जाते हैं। इस स्थान को 1997 में अभयारण्य घोषित कर दिया गया था।

यह जोरहाट शहर का काफी मशहूर पर्यटक स्थल है जिसको देखने के लिए काफी दूर-दूर से लोग आते हैं। यहां पर आपको बाघ लंगूर जंगली बिलिया जंगली सूअर तथा विभिन्न प्रकार की गिलहरियां और हाथी तथा कंगारू और इसके अलावा भी बहुत से जानवर यहां पर आपको देखने को मिल सकते हैं, जो कि काफी आकर्षक दिखते हैं और यहां पर आकर आपको कभी शांति भी मिलती है। जिसके कारण यहां पर आकर लोग काफी ज्यादा परेशान होते हैं, और अपने आप को काफी  शांत महसूस करते हैं।

4. लचित बोरफुकन मैदान ( Lachit Borfukan Maidan )

Tourist Places In Jorhat में इन सभी के अलावा लचित बोरफुकान का मैदान भी स्थित है, जो कि काफी ज्यादा प्रसिद्ध है और इसे देख कर भी लोग काफी ज्यादा प्रसन्न होते हैं, यह स्थान भी यहां के लोकप्रिय स्थानों में से एक है यहां पर अहोम जनरल की एक मूर्ति बनवाई गई है जो कि काफी बड़ी है।

अहोम जनरल वह इंसान थे जो मुगलों से गुवाहाटी को जीतने के लिए सारा घाट की लड़ाई में बहुत ही ज्यादा बहादुरी से लड़े थे, और अहोम जनरल महान नेतृत्व के लिए भी पूरी दुनिया में जाने जाते हैं साराघाट की लड़ाई को जीतने के 1 साल के पश्चात कुछ गंभीर स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों के कारण उनका निधन हो गया था, और फिर उनके निधन के पश्चात यहां पर यह मूर्ति बनवाई गई थी आसाम के लोगों

के द्वारा आज भी इन्हें बहुत ज्यादा सम्मान दिया जाता है, और यह स्थान वन्यजीव अभयारण्य से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यदि आप Visiting Places In Jorhat के बारे में सोच रहे हैं, तो इस स्थान पर जरूर जाएं इस स्थान पर आकर देश प्रेम की भावना भी बढ़ती है।

5. सिन्नोंमोरा चाय बागान ( Sinnomora Tea Garden )

जोरहाट शहर का सबसे पहला चाय का बागान सिन्नोंमोरा चाय बागान है, जो कि सिर्फ चाय के लिए ही प्रसिद्ध है, यह बागान 1850 ईस्वी में स्थापित किया गया था और यह बागान लगभग जोरहाट शहर से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यह बागान दिखने में बहुत ही ज्यादा सुंदर है, यहां पर आकर आपको काफी अच्छे-अच्छे आकर्षक दृश्य देखने को मिलते हैं, जो कि काफी ही लुभावने होते हैं यदि आप यहां पर घूमने के लिए आ जाएं तो आप काफी अच्छा महसूस करेंगे, और यह स्थान भी Places To Visit In Jorhat का सबसे बेहतरीन स्थान है।

6. नीमाती ( Nimati )

यह जोरहाट शहर का सबसे महत्वपूर्ण बंदरगाह है, जो कि माजूली का एंट्री पॉइंट भी है जो कि दुनिया का सबसे बड़ा नदी द्वीप भी है यह स्थान जोरहाट शहर से लगभग 17 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, और यह स्थान शुष्क मौसम में काफी ज्यादा व्यस्त रहता है और मानसून के दौरान तो यह स्थान काफी जोखिम भरा भी होता है, जो हर शहर से नियमित रूप से यहां पर जाने की बसें चलती रहती हैं जो कि पर्यटकों के लिए सबसे अच्छा यातायात का साधन भी है।

7. लड़ाई गढ़ ( Ladai Garh )

यह स्थान जोरहाट शहर का सबसे ज्यादा आकर्षक स्थान तथा Visiting Places In Jorhat का अहम हिस्सा है। लड़ाई गढ़ स्थान को राजा प्रताप सिंह ने अपने शहर की सुरक्षा और दुश्मनों की घुसपैठ रोकने के लिए बनवाया था पुराने समय में तो यह बहुत ही अच्छा किया था परंतु अब यह सिर्फ एक खंडहर के रूप में है, परंतु अब भी यहां पर काफी सारे पर्यटक इसे देखने के लिए आते हैं। क्योंकि इस किले के चारों तरफ काफी अच्छे-अच्छे दृश्य देखने को मिलते हैं, और इसके साथ ही बहुत ही ऐतिहासिक चीजें भी यहां देखने को मिलती हैं जो कि उस समय को बयां करती हैं।

Best Time To Visit In Jorhat – जोरहाट घूमने के लिए अच्छा समय कौन सा है?

हमने Tourist Places In Jorhat तथा Places To Visit In Jorhat के बारे में तो जान लिया अब हम आपको यह बता देते हैं, कि किस मौसम में आपको यहां पर आने का ज्यादा आनंद मिल सकता है तो दोस्तों अगर आप Tourist Places In Jorhat पर घूमना चाहते हैं, तो आप यहां पर थोड़ा ठंडे मौसम में आए तो ही बेहतर होगा, जैसे कि आप नवंबर से लेकर मार्च तक के महीने पर यहां पर घूमने आए तो आप फिर काफी ज्यादा आनंद ले पाएंगे। इसीलिए नवंबर से लेकर मार्च तक के महीने में ही इस जगह पर आप घूमने के लिए आए।

How To Reach In Jorhat In Hindi – जोरहाट शहर में कैसे पहुंचे?

जोरहाट शहर में घूमने के लिए आप 3 तरीकों से आ सकते हैं जैसे कि :-

सड़क मार्ग ( By Road ) –

आप सड़क के रास्ते भी यहां पर आ सकते हैं, मतलब कि यदि आप अपनी खुद की गाड़ी में आना चाहते हैं या फिर बस में आना चाहते हैं तो आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं, यहां की सड़कें बाकी सभी शहरों तथा राज्यों के साथ जुड़ी हुई हैं।

रेल मार्ग ( By Train ) –

आप यहां पर रेल मार्ग के द्वारा भी पहुंच सकते हैं, मतलब कि आप ट्रेन में बैठ कर भी यहां पर आ सकते हैं यहां पर मरियानी जंक्शन ( Mariani Junction ) रेलवे स्टेशन है, जहां पर आप भारत के किसी भी राज्य से ट्रेन में बैठ कर आ सकते हैं।

हवाई जहाज ( By Air )

यदि आप अपना हाथ ज्यादा समय बर्बाद नहीं करना चाहते तो आप यहां पर हवाई जहाज में बैठकर भी आ सकते हैं, जोरहाट का अपना खुद का हवाई अड्डा है जोकि रोवरिया में स्थित है, आप भारत के किसी भी कोने में से इस हवाई अड्डे पर जहाज में बैठ कर आ सकते हैं। और इसके साथ-साथ यहां पर हेलीपैड भी है यदि आप हेलीकॉप्टर से यहां पर आना चाहते हैं तो उस प्रकार भी आप आ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *