फ्रीलांसर कैसे बने और फ्रीलांसर से पैसे कैसे कमाएँ

Online Earning Review

तो सबसे पहले हम ये जान लेते हैं की फ्रीलांसर किसे कहते हैं।

अगर कोई इंसान स्वतंत्र रूप (इंडीविदल) से काम करता है मतलब की किसी के दिये हुए काम को करता है बिना किसी निश्चित समय के और अपने घर से या चाहे जहां से तो वो एक फ्रीलांसर की तरह काम कर रहा है ।

ऐसे समझिए राहुल ने विवेक को कोई काम दिया और बोला की ये काम हमे 2 दिन मे चाहिए तो विवेक उस काम  को  2 दिन  में कम्पलीट कर के देना होगा  अब वो चाहै  जैसे भी  काम करे  मेरा मतलब दिन में या रात में ये विवेक का प्रॉब्लम है  तो अब आप समझ गए होंगे की ‘फ्रीलान्सर’ किसे कहते हैं ।

अब हम जानने वाले हैं की फ्रीलान्सर कैसे बने ?

                                        फ्रीलान्सर कैसे बने ?

तो इसके लिए आपको एक प्लेटफॉर्म चुनना पड़ेगा कहने का मतलब है ‘ फ्रीलान्सिंग ‘ वैबसाइट जहां पर ऐसे काम मिलते हों जो फ्रीलान्सर करता है, और हाँ फ्रीलान्सर बनाने के लिए आपको कोई अलग से पढ़ाई नहीं करनी पढ़ती है की कोई फ्रीलान्सर का कोर्स है जिसको करने सेआप फ्रीलान्सर का सर्टिफिकेट लेकर फ्रीलान्सर बन जाएँ, ऐसा कुछ नहीं है ।

बस आप पूरा पढ़िये जो मै बता रहा हूँ, आप बिना किसी दिक्कत के जान जाएंगे की फ्रीलान्सर कैसे बना जाता है ।

बस आपको एक अच्छी  और ट्रस्टेड वैबसाइट को चुनना है ।  ( मै कुछ अच्छी और ट्रस्टेड वैबसाइट के नाम बताया हुआ हूँ । ) अब जब आपने एक वैबसाइट चुन लिया है तो आप उस पर अपनी अकाउंट बनाइये। ( अब आप अपने स्किल को मेन्सन अपने अकाउंट मे मेन्सन कर दीजिये ) अगर आपको नहीं पता की कौन – कौन सी स्किल चाहिए तो मैंने नीचे बताया हुआ है, अब आपके स्किल और बाकी सबकुछ मेन्सन करने के जब आपका अकाउंट पूरी तरह रेडी हो जाता है और उसके बाद अगर आपको काम भी मिलना शुरू हो जाता है तो समझिए की आप एक “ फ्रीलान्सर “ बन गयें ।

                                फ्रीलान्सिंग के लिए ट्रस्टेड वैबसाइट

(1)   फ्रीलान्सर . कॉम

(2)   ट्रूलान्सर . कॉम

(3)   फाइवर . कॉम

(4)   गुरु . कॉम

(5)   अपवर्क . कॉम

(6)   पीपल पर आवर . कॉम

तो ये सभी ट्रस्टेड वैबसाइट हैं, फालतू नहीं है हम फालतू वैबसाइट उसे कहते हैं जहां पर काम करवाकर पैसे नही दिये जाते ।

तो अब हम उन स्किल को जान लेते हैं जिसकी जरूरत हमे फ्रीलान्सर बनाने मे पड़ती है ।

                                फ्रीलान्सिंग के लिए स्किल

इसमे ज़्यादातर टेक्निकल काम ही होते हैं करने के लिए जो इस प्रकार से हैं ।

(1)   डिजिटल मार्केटिंग

(2)   ऑटोकैड

(3)   वेब डिज़ाइनिंग

(4)   ग्राफिक डिज़ाइनिंग

(5)   विडियो एडिटिंग

(6)   ऐप डेवेलपिंग

(7)   वेब डेवेलपिंग

(8)   डाटा एंट्री

इत्यादि कार्य (स्किल) होते हैं जिनकी डिमाण्ड रहती है फ्रीलान्सिंग की वैबसाइट पर । अब पैसे कैसे कमाए इसको जानते हैं।

                                फ्रीलान्सिंग से पैसे कैसे कमाए

तो इसमे ज्यादा कुछ नहीं है जानने को बस इतना जान लीजिये की आप जिन लोगो का काम करेंगे वो उस काम के बदले मे आपको पैसा देंगे और वो पैसा सीधे आपके अकाउंट मे ऐसा सभी वैबसाइट वाले नहीं करते क्यूंकी सबका अलग–अलग तरीका है पैसा लेन-देन करने का । जैसे की कुछ लोग तो आपके अकाउंट मे भेज सकते हैं लेकिन कुछ लोग ई-वालेट का उपयोग करते हैं जैसे की “ पेय पल “ जैसे सर्विस का इस्तेमाल करते हैं

तो उम्मीद है की आप समझ गए होंगे एकदम अच्छे से तो कृपया दूसरों के पास भी शेयर कर दीजिये और अगर कुछ ऐसा हो जो ना समझ मे आया हो तो आप कमेंट बॉक्स मे पूछ सकते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *