बिहार राज्य के कटिहार में है कुछ ऐसे पर्यटक स्थल जहां पर पर्यटकों को मिलता है कुछ अलग ही अनुभव

Tour and Travels
  • वैसे तो हो बिहार राज्य के अलग-अलग सभी जिलों में कोई ना कोई पर्यटक स्थल जरूर है और यह पर्यटक स्थल काफी आकर्षक होने के साथ-साथ काफी ज्यादा प्राचीन भी हैं इसीलिए यहां पर घूमना हर कोई पसंद करता है यदि आप पर्यटन का कुछ अलग ही अनुभव लेना चाहते हैं तो आप बिहार राज्य के कटिहार शहर का भ्रमण अवश्य करें क्योंकि कटिहार भारत में बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है और यह अपने प्राकृतिक तथा आध्यात्मिक महत्व के लिए भी पूरी दुनिया में है जाना चाहता है।
  • कटिहार झारखंड का एक पठारी क्षेत्र है जो की पवित्र गंगा नदी के किनारे पर बसा हुआ है और गंगा जी की निर्मल धाराएं इस स्थल को काफी ज्यादा खास बनाने का काम भी करती हैं यदि कहीं पर भारत के पर्यटक स्थलों की बात हो रही है तो कटिहार के पर्यटक स्थलों के बारे में भी जरूर बात होती है क्योंकि यहां के पर्यटक स्थल कुछ ऐसे हैं कि जो कोई व्यक्ति भी इनके बारे में सुनता है या फिर इंटरनेट पर देखता है तो वह यहां पर एक बार katihar Tourist Place पर आने का जरूर सोचता है आगे हम आपको इसी के बारे में विस्तार से बताएंगे कि Tourist Places Near katihar तथा Visiting Places In katihar

Tourist Places Near katihar

1. गोरखनाथ मंदिर ( Gorakhnath Temple )

  • यदि आप Tourist Places Near katihar पर भ्रमण करने का विचार कर रहे हैं। तो हम आपको बता दें कि आप कटिहार शहर के बिल्कुल पास में स्थित गोरखनाथ मंदिर में भी ब्राह्मण कर सकते हैं इस गोरखनाथ मंदिर में श्रद्धालु काफी दूर-दूर से आते हैं यहां पर स्थित गोरखनाथ मंदिर भारत के सबसे पवित्र स्थलों में गिना जाता है। इसीलिए यहां पर काफी दूर-दूर से श्रद्धालु आते हैं और यह मंदिर देवों के देव महादेव को समर्पित है। इस मंदिर को लेकर यहां की स्थानीय लोगों में भी अलग अलग तरह की मान्यताएं हैं इस स्थान पर भगवान शिव की यह मूर्ति को गोरखनाथ महादेव के रूप में पूजा जाता है।
  • हर साल शिवरात्रि पर यहां काफी बड़ा कार्यक्रम भी आयोजित किया जाता है जिसमें दूसरे राज्यों से श्रद्धालु आकर हिस्सा लेते हैं। इस मंदिर में एक बहुत ही आकर्षक शिवलिंग विराजमान है ऐसा माना जाता है कि यह मंदिर 17 वीं शताब्दी के दौरान बनवाया गया था इसीलिए यह मंदिर भारत के सबसे प्राचीन मंदिरों में से एक है। इसी के साथ साथ इस मंदिर के आसपास का वातावरण भी काफी शुद्ध तथा शांत है और जो कोई भी श्रद्धालु यहां पर आता है उसे यहां पर आकर काफी शांति की अनुभूति होती है और उसका मन भी शांत होता है। इसी स्थान पर रोजाना भारत के अलग-अलग राज्यों से महादेव के भक्त आते जाते रहते हैं।

2. बागी मठ ( Rebel Math )

  • यदि आप katihar Tourist Place पर शेयर करने का आनंद उठाना चाहते हैं। तो आप बागी मठ पर भी घूमने के लिए आ सकते हैं कटिहार शहर से कुछ ही दूरी पर बागी गांव स्थित है। लोग आत्मिक तथा मानसिक शांति के लिए इस स्थल का भ्रमण करते हैं इस स्थान पर आकर लोगों को बहुत ही शांति मिलती है। अध्यात्मिक की अंतर्वस्तु को ठीक ढंग से समझने के लिए भी आप इसी स्थान पर भ्रमण कर सकते हैं। बागी मठ अपने 108 कमरों के लिए भी भारत में जाना जाता है जहां पर ध्यान साधना की जाती है। यदि कोई भी व्यक्ति अपने व्यस्त जीवन शैली से बहुत ज्यादा तंग आ चुका है और उसके मन में काफी बुरे विचार आते हैं। तो वह व्यक्ति बागी मठ में आकर कुछ समय बिता सकता है।
  • बागी मठ में अक्सर वह व्यक्ति आते जाते रहते हैं। जो कि इस दुनिया की मोह माया से काफी परेशान हो गए हो बागी मठ में आकर आप अपनी आत्मा को शुद्ध कर सकते हैं। इसीलिए अपनी आत्मा के शुद्धिकरण के लिए भी लोग भारत के अलग-अलग राज्यों तथा दूसरे देशों से भी लोग अपनी आत्मा का शुद्धिकरण करने के लिए बागी मठ में आते हैं। बागी मठ में कोई भी व्यक्ति आ सकता है यहां पर किसी भी धर्म के व्यक्ति के लिए कोई रोक-टोक नहीं है। अगर आप भी अपनी व्यस्त जीवनशैली के कारण काफी परेशान है तो आप कुछ दिन का समय निकालकर बागी मठ में जरूर आएं। यहां पर आकर लोगों को जीने का एक अलग ही तरीका मिलता है।

3. गोगा झील ( Goga Lake )

  • जो लोग Visiting Places In katihar पर घूमने के लिए आते हैं वह गोगाजी पर भी अवश्य आते हैं। क्योंकि कटिहार में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध गोगा झील भी है हिंदू धर्म के लोग यदि कटिहार मैं घूमने के लिए आ रहे हैं। तो वह गोगा जी के दर्शन जरूर करके जाते हैं गोगाजी लखनी अद्भुत खूबसूरती के लिए काफी ज्यादा प्रसिद्ध है। इसीलिए काफी दूरदराज से सैलानी गोगा झील पर भ्रमण के लिए आते हैं यह गोगाजी लगभग 5 किलोमीटर तक फैली हुई है।
  • मानसून के दौरान तो यह झील गंगा तथा महानंदा अभी नदियों से भी जुड़ती है और इसी के साथ-साथ यह है जी बहुत से जलीय जीवो तथा पक्षी प्रजातियों का निवास स्थान भी है। इसी के साथ साथ आप यहां पर अलग-अलग तरह की वनस्पति प्रजातियां भी देख सकते हैं। मानसून के दौरान तो इस दिल पर 300 से भी अधिक प्रवासी पक्षियों का आगमन होता है और मानसून के दौरान तो गोगा झील पर जो कोई पर्यटक भी घूमने के लिए आता है। वह इस शानदार दृश्य को देखकर काफी आकर्षित होता है इस झील को लेकर भी लोगों के मन में काफी अलग अलग तरह की मान्यताएं हैं।

4. काली मां का मंदिर ( Kali Maa Temple )

  • कटिहार के प्रमुख पर्यटक स्थलों में आकर्षण का एक मुख्य कारण यहां पर स्थित काली माता का मंदिर भी है। यह मंदिर मां दुर्गा के रौद्र रूप काली माता को समर्पित है इस मंदिर में काली माता की एक बहुत ही भव्य तथा आकर्षक प्रतिमा हैं। इस प्रतिमा को कुछ इस प्रकार सजाया गया है कि जो कोई व्यक्ति भी अंदर जाकर काली मां के दर्शन करता है वह माता की तरफ काफी ज्यादा आकर्षित होता है। इसी के साथ साथ इस मंदिर की दीवारों तथा दरवाजों और स्तंभों पर काफी लुभावनी नक्काशी भी देखने को मिलती है। जिसे देखकर आपका ध्यान उस नक्काशी की ओर ही खींचा चला जाएगा।
  • जब त्योहार पास में आने लगते हैं तो उस समय इस मंदिर को बहुत ही ज्यादा सजाया जाता है और त्योहारों के दिनों में थे यहां पर बहुत से भव्य कार्यक्रम भी आयोजित कराए जाते हैं। खासतौर पर दीपावली तथा दुर्गा अष्टमी के दिन तो यहां पर बहुत ही बड़े कार्यक्रम आयोजित कराए जाते हैं। जिनमें भारत के दूसरे राज्यों से भी श्रद्धालु आकर हिस्सा लेते हैं यह मंदिर भी भारत के प्राचीन मंदिरों में से एक है। यदि आप अपनी फैमिली के साथ katihar Tourist Place पर घूमने के लिए आ रहे हैं। तो आप मां काली के इस मंदिर पर जाना मत भूलिएगा।

5. रामकृष्ण आश्रम ( Ramakrishna Ashram )

इन सभी पर्यटक स्थलों के साथ-साथ कटिहार शहर में रामकृष्ण आश्रम भी स्थित है। आप Tourist Places Near katihar पर भ्रमण करने के लिए घर आ रहे हैं तो इस स्थान पर भी घूमने के लिए आ सकते हैं। इस स्थान को लगभग 1925 ईस्वी में बनवाया गया था यह स्थान 1925 ईस्वी में प्लेट तथा मलेरिया के मरीजों के उपचार के लिए खोला गया था। बाद में इस स्थान को एक धार्मिक  स्थल के रूप में विकसित कर दिया गया अब इसी स्थान को रामकृष्ण मिशन के सेंटर के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। यह आश्रम प्राचीन वेदों के सिद्धांत पर चलता है इस स्थान पर भी लोग भारत के विभिन्न राज्यों से अपने मन की शांति तथा आत्मा के शुद्धिकरण के लिए आते हैं। यहां पर आकर लोग ध्यान लगाते हैं तथा अपने मन के अंदर की नकारात्मकता को खत्म करते हैं।

Best time To Visit In Katihar – कटिहार घूमने के लिए कौन सा समय ठीक रहता है?

हमने Tourist Places Near Katihar तथा Visiting Places In katihar के बारे में तो विस्तार से जान ही लिया। अब हम आपको यह बता देते हैं कि katihar Tourist Place पर घूमने के लिए आप किस मौसम में आ सकते हैं। तो दोस्तों कटिहार शहर में वैसे तो आप अपनी इच्छा के अनुसार किसी भी मौसम में आ सकते हैं। क्योंकि आज के समय में लोगों के पास टाइम बहुत कम होता है। इसलिए आप अपने समय के अनुसार किसी भी मौसम में यहां पर आ सकते हैं। हर मौसम में आपको यहां पर आने का एक अलग ही आनंद मिलेगा। परंतु यदि आप थोड़े सर्दी के मौसम में यहां पर घूमने के लिए आते हैं। तो आप यहां पर आकर काफी है अच्छा महसूस करेंगे क्योंकि सर्दियों के मौसम में वातावरण ठंडा होता है। जिसके कारण घूमने में भी ज्यादा आनंद आता है। इसीलिए आप नवंबर से लेकर मार्च तक के महीने में आप पर घूमने के लिए आए।

How To Visit In Katihar Tourist Places – कटिहार पर्यटक स्थलों पर कैसे पहुंचे?

katihar Tourist Place पर घूमने के लिए आप 3 तरीकों से पहुंच सकते हैं जैसे कि :-

By Road –

अगर आप अपनी खुद की गाड़ी से या फिर बस में बैठकर यहां पर आना चाहते हैं। तो आप इस प्रकार भी आसानी से आ सकते हैं। क्योंकि कटिहार की सड़कें बिहार के दूसरे शहरों तथा भारत के अन्य राज्यों के साथ जुड़ी हुई है। जिसके माध्यम से आप आसानी से यहां पर पहुंच सकते हैं।

By Train –

यदि आप रेलगाड़ी के माध्यम से यहां पर आना चाहते हैं। तो रेलगाड़ी के माध्यम से भी आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं। क्योंकि कटिहार का अपना खुद का रेलवे स्टेशन ( Katihar Junction ) है जिस पर आप भारत के किसी भी राज्य से या फिर बिहार के किसी भी शहर से है आसानी से रेल मार्ग के द्वारा पहुंच सकते हैं। भारत के सभी बड़े बड़े शहरों से यहां पर आने की रेल आपको आसानी से मिल जाएगी। जिसके माध्यम से आप यहां पर पहुंच सकते हैं।

By Air –

 यदि आप यात्रा करने में अपना ज्यादा समय बर्बाद नहीं करना चाहते तो आप यहां पर हवाई जहाज के माध्यम से भी आ सकते हैं। यदि आप हवाई जहाज के माध्यम से यहां पर आना चाहते हैं। तो आप भारत के किसी भी राज्य से Bagdogra Airport पर आसानी से आ सकते हैं यह एयरपोर्ट Siliguri शहर में स्थित है। यह एयरपोर्ट कटिहार शहर से लगभग 147 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस एयरपोर्ट पर पहुंच कर आप वहां से बस के माध्यम से या फिर प्राइवेट टैक्सी के माध्यम से कटिहार शहर में पहुंच सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *